Viklang Sahara Samiti

Annual Reports

Annual Reports 2018-19

गत वर्षो की तुलना में ये वर्ष संस्था के लिए काफी नई विषेशताएं ले कर आया है क्योंकि संस्था को टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिडेट के माध्यम से व्यवसायिक प्रशिक्षण केन्द्र चलाने हेतु एन-ब्लाॅक, सब-स्टेशन बिल्डिंग, मंगोलपुरी दिल्ली, में दिया गया साथ ही साथ उसे चलाने हेतु आर्थिक मदद् भी दी गई जिससे ज्यादा से ज्यादा युवाओं को संस्था ज्यादा से ज्यादा सुविधाऐं दे पाएगी एवं पं0 दिन दयाल उपाध्याय विकंलाग जन संस्थान से निशक्तजनों को कौशल विकास प्रशिक्षण देने का कार्य हेतु पुनः 400 निशक्तजनों को कौशल प्रशिक्षण देने का कार्य मिला जिसको संस्था ने सफलतापूर्वक किया। साथ ही साथ नैशनल ट्रस्ट के माध्यम से संस्था को दिशा योजना व विकास योजना के माध्यम से मंद बुद्धि बच्चों के हेतु योजना के साथ जोड़ा गया। साथ ही साथ संस्था ने अपने दानकर्ताओं की मदद् से मंदबुद्धि बच्चों के लिए अर्ली इंटरवेंशन स्कूल क्व्छ।त् की मदद् से एफ-जी ब्लाॅक बरातघर में संचालित किया। जिससे संस्था ज्यादा से ज्यादा निशक्तजनों को इस स्कूल की मदद् से फायदा पहुचा सके।

Annual Reports 2017-18

पिछले साल वापस देखकर, मेरे पास आने वाली कई अद्भुत घटनाएं हैं ध्यान रखें कि उन सभी को बताना मुश्किल है। इस वार्षिक रिपोर्ट के साथ, हम आपको कुछ झलक देने की कोशिश कर रहे हैं। हमारा प्रयास शामिल करने की दिशा में तैयार हैं सभी क्षेत्रों में, ताकि हमारे छात्र मूल्यों और समृद्धि सीख सकें अलग-अलग लोगों के साथ एकजुटता। मेरे लिए, मैं साझा करना चाहता हूं आपके साथ बच्चों, स्वयंसेवकों और कर्मचारियों के साथ मुझे लगता है कि कई बार जब कई लोग भविष्य के बारे में चिंतित हैं, तो ऐसा ही है वर्तमान में किसी के दिमाग और दिल पर ध्यान केंद्रित करने और स्टॉक लेने का प्रयास करना महत्वपूर्ण है दैनिक जीवन की सरल खुशी। मुझे उम्मीद है कि आपके साथ यहां साझा की गई तस्वीरें आपको इस प्रकार का थोड़ा सा महसूस करने दे सकती हैं सरल जोय की चिंता या चिंता के हमारे क्षणों को संतुलित कर सकते हैं। हम अपने पिछले साल की गतिविधियों के परिणामों को साझा करने और कुछ नई उपलब्धियों के बारे में सूचित करने के लिए यहां हैं।

Annual Reports 2016-17

गत वर्षो की तुलना में यह वर्ष संस्था के लिए के लिए काफी नई विशेषताएं ले कर आया है क्योकि इसमें संस्था ने सफलता की ओर अग्रसर होते हुए सामाजिक कार्यो में और ज्यादा प्रसन्नता प्राप्त करते हुए 18 वर्ष पूर्ण किए है। दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड, दिल्ली सरकार द्वारा संस्था को पहाड़गंज मुल्तानी ढ़ाडा दिल्ली में एक रैन बसेरा चलाने हेतु दिया गया। संस्था को एनडीपीएल के माध्यम से विकलंाग मार्ग दर्शन चलाने हेतु आर्थिक मदद् की गई जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों को संस्था ज्यादा से ज्यादा सुविधाऐं दे पाएगी। एवं इस वर्ष सबसे महत्वपूर्ण बात यह रही कि संस्था को संत कौर मेमोरियाल ट्रस्ट द्वारा विकलंाग व्यक्तियों को स्वरोजगार में मदद् करने हेतु सहयोग मिला जिसमें बहुत से विकलंाग लोगों की मदद् संस्था द्वारा कि गई। संस्था ने इस वर्ष अनेकों कार्यक्रमों का आयोजन कर समाज के संदेश दिया कि हर व्यक्ति हर किसी कार्य को कर सकता है जैसे:-हर व्यक्ति का चीजों को देखने का अपना एक अलग नजरिया होता है, जो सभी को सही या गलत सोचने पर मजबूर करता है।

Annual Reports 2015-16

संस्था की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए गौरवान्वित हूँ। ये वर्ष अपनी सीख को बाँटने और उसका विस्तार करने वाला वर्ष रहा। विगत वर्षाें में विकलंाग सहारा समिति दिल्ली ने युवाओ, महिलाओं और दिव्यांगज बच्चो के मुद्धो पर काम करते हुए जो भी समझ विकसित की है, उन्हें आगे ले जाना और अपने साथियों के काम के साथ जोड़ते हए उसका विस्तार करना इस वर्ष की सबसे महत्वपूर्ण उपलब्धि रही। कौशल विकास प्रशिक्षण, स्वास्थ्य और शिक्षा का मुद्ा विकलंाग सहारा समिति दिल्ली का मुख्य कोर विषय रहा है। हमें गर्व होता है- जब अनेक साथी संस्थाए और एजेंसीज अपने काम में इस मुद्े को शामिल करने के लिए अपनी समझ को बढ़ाना चाहती हैं और इस के लिए वे हमें आमंत्रित करती हैं। इस विषय पर खुल कर बात करने के लिए अभी भी चुप्पी तोड़ो और बात करो जैसे अभियान की प्रासंगिकता बरक़रार है। गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी हमने विकलंाग सहारा समिति दिल्ली के अनुभवों को राष्ट्रीय और अंतरासष्ट्रीय मचं पर भी रखा जहाँ हमें अपने काम को मान्यता दिलाने का अवसर मिला। साल दर साल काम बढ़ने के साथ युवा बच्चों व महिलाओं की संख्या भी बढ़ रही है।

Annual Reports 2014-15

गत वर्षो की तुलना में यह वर्ष संस्था के लिए के लिए काफी नई विशेषताएं ले कर आया है क्योकि इसमें संस्था ने सफलता की ओर अग्रसर होते हुए सामाजिक कार्यो में और ज्यादा प्रसन्नता प्राप्त करते हुए 18 वर्ष पूर्ण किए है। दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड, दिल्ली सरकार द्वारा संस्था को पहाड़गंज मुल्तानी ढ़ाडा दिल्ली में एक रैन बसेरा चलाने हेतु दिया गया। संस्था को एनडीपीएल के माध्यम से विकलंाग मार्ग दर्शन चलाने हेतु आर्थिक मदद् की गई जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों को संस्था ज्यादा से ज्यादा सुविधाऐं दे पाएगी। एवं इस वर्ष सबसे महत्वपूर्ण बात यह रही कि संस्था को संत कौर मेमोरियाल ट्रस्ट द्वारा विकलंाग व्यक्तियों को स्वरोजगार में मदद् करने हेतु सहयोग मिला जिसमें बहुत से विकलंाग लोगों की मदद् संस्था द्वारा कि गई। संस्था ने इस वर्ष अनेकों कार्यक्रमों का आयोजन कर समाज के संदेश दिया कि हर व्यक्ति हर किसी कार्य को कर सकता है जैसे:-हर व्यक्ति का चीजों को देखने का अपना एक अलग नजरिया होता है, जो सभी को सही या गलत सोचने पर मजबूर करता है। हमारे समाज में लोग कई मुदों पर काम करे रहे है।